29/3/16

ये रात ये चाँदनी फिर कहाँ //Ye Raat Ye Chandni Phir Kahan (hemant) - Jaal Songs - Dev Anand - Geeta ...

ये रात ये चाँदनी फिर कहाँ
गीतकार : साहिर लुधियानवी,
 गायक : हेमंत कुमार,
 संगीतकार : सचिनदेव बर्मन,
चित्रपट : जाल 
१९५२
 Lyricist : Saahir Ludhiyanvi,
Singer : Hemant kumar,
Music Director : Sachindev Burman,

               


SONG

ये रात ये चांदनी फिर हां सुन जा दिल की दास्तां  --- विडियो लिंक 

पेड़ों की शाखों पे सोई-साई चांदनी 
तेरे  ख्यालों  में  खोई—खोई चांदनी और  थोड़ी  देर  में  थक  के  लौट जागी रात  ये बहार  की  फिर  कभी   आएगी दो  एक  पल  और  है  ये  मां 

लहरों  के  होंठो  पे धीमा-धीमा  राग  है
भीगी हवाओं  में ठंडी-ठंडी आग  है इस  हसीं  आग में  तू   भी जल के देख ले ज़िन्दगी के गीत  की धुन बदल के देख ले खुलने दे अब कनों की ज़बां 

जाती  बहारें  हैं उठती  जवानियां 
तारों  की  छांव में ह ले कहानियां
एक बार चल दिए गर तुझे  पुकार के लौटकर  आयेंगे  काफिले  बहार  के
आजा  अभी  ज़िन्दगी है वां


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें