28/4/16

गुम हैं किसी के प्यार मे// Gum Hai Kisi Ke Pyar Mein | Lata Mangeshkar, Kishore Kumar | Raampur Ka ...

गुम हैं किसी के प्यार मे 
 Gum Hai Kisi Ke Pyar Mein
 Lata Mangeshkar, 
Kishore Kumar
फ़िल्म: रामपुर का लक्ष्मण 1973          
SONG 
किशोर: गुम है किसी के प्यार में, दिल सुबह शाम
पर तुम्हें लिख नहीं पाऊँ, मैं उसका नाम
हाय राम, हाय राम
 कुछ लिखा?
 हाँ
 क्या लिखा?
 गुम है किसी के प्यार में, दिल सुबह शाम
पर तुम्हें लिख नहीं पाऊँ, मैं उसका नाम
हाय राम, हाय राम
 अच्छा, आगे क्या लिखूँ?
 आगे?
 सोचा है एक दिन मैं उससे मिलके
कह डालूँ अपने सब हाल दिल के
और कर दूँ जीवन उसके हवाले
फिर छोड़ दे चाहे अपना बना ले
अब तो जैसे भी मेरा हो अंजाम
गुम है किसी के प्यार में, दिल सुबह शाम
पर तुम्हें लिख नहीं पाऊँ, मैं उसका नाम,
हाय राम, हाय राम
 लिख लिया?
 हाँ
 ज़रा पढ़के तो सुनाओ
 चाहा है तुमने जिस बावरी को
वो भी सजनवा चाहे तुम्हीं को
नैना उठाए तो प्यार समझो
पलकें झुका दे तो इक़रार समझो
रखती है कब से छुपा छुपा के
 क्या?
 अपने होंठों में पिया तेरा नाम
गुम है किसी के प्यार में, दिल सुबह शाम
पर तुम्हें लिख नहीं पाऊँ, मैं उसका नाम
हाय राम, हाय राम

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें