12/4/16

न तुम बेवफा हो Na Tum Bewafa Ho Na Hum Bewafa Hain - Ek Kali Muskai

न तुम बेवफा हो ,
Na Tum Bewafa Ho,
ek kali muskai ,
1968,
: लता मंगेशकर,
lata ,
एक कली मुस्काई

      SONG

ना तुम बेवफा हो, ना हम बेवफा हैं
मगर क्या करें, अपनी राहें जुदा है

जहाँ ठण्डी-ठण्डी हवा चल रही है
किसी की मोहब्बत वहां जल रही है
ज़मीं आसमां हमसे दोनों खफा हैं
ना तुम...

अभी कल तलक तो मोहब्बत जवां थी
मिलन ही मिलन था, जुदाई कहाँ थी
मगर आज दोनों ही बे-आसरा हैं
ना तुम...

ज़माना कहे मेरी राहों में आजा
मोहब्बत कहे मेरी बाहों में आजा
वो समझे ना मजबूरियाँ अपनी क्या है
ना तुम...


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें