बुधवार, 20 अप्रैल 2016

'सोच ना सके SOCH NA SAKE' Video | AIRLIFT | Akshay Kumar, Nimrat Kaur | Arijit Sing...


soch na sake
सोच न सके
अरिजित सिंग,Arijit sing
अमन मालिक ,Amaan malik
एयर लिफ्ट ,Airlift
2015

        Song
Tenu itna main pyar karaan
Ik pal vich sau baar karaan
Tu jaave je mainu chhad ke
Maut da intezaar karaan

Ke tere liye duniya chod di hai
Tujhpe hi sans aake rukhe
Main tujhko kitna chahta hoon
Ye tu kabhi soch na sake

Ke tere liye duniya chod di hai
Tujhpe hi sans aake rukhe
Main tujhko kitna chahta hoon
Ye tu kabhi soch na sake

Kuch bhi nahi hai ye jahan
Tu hai to hai ismein zindagi


Kuch bhi nahi hai ye jahan
Tu hai toh hai isme zindagi
Ab mujhko jaana hai kahan
Ke tu hi safar hai aakhiri

Ke tere bina jeena mumkin nahi
Na dena kabhi mujhko tu faasle
Main tujhko kitna chahati hoon
Ye tu kabhi soch na sake

Tere liye duniya chod di hai
Tujhpe hi saans aake rukhe
Main tujhko kitna chahta hoon
Ye tu kabhi soch na sake

Ankhon ki hai yeh khwahishein
Ki chehre se teri na hatein
Neendon mein bas tere
khwabon ne li hai karwatein

Ki teri ore mujhko leke chale
Ye duniya bhar ke sab rastein
Main tujhko kitna chahta hoon
Ye tu kabhi soch na sake

Tere liye duniya chod di hai
Tujhpe hi sans aake rukhe
Main tujhko kitna chahta hoon
Ye tu kabhi soch na sake

gana hindi me 

तेनु इतना मैं प्यार कराँ
इक पल विच सौ बार कराँ
तू जावे जे मेनू छड के
मौत दा इंतज़ार कराँ
के तेरे लिए दुनिया छोड़ दी हैं
तुझपे ही सांस आके रुके
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके
के तेरे लिए दुनिया छोड़ दी हैं
तुझपे ही सांस आके रुके
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके

कुछ भी नहीं हैं ये जहाँ
तू हैं तो हैं इसमें ज़िन्दगी
कुछ भी नहीं हैं ये जहाँ
तू हैं तो हैं इसमें ज़िन्दगी
अब मुझको जाना हैं कहाँ
के तू ही सफ़र हैं आखिरी

के तेरे बिना जीना मुमकिन नहीं
ना देना कभी मुझको तू फासले
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके
तेरे लिए दुनिया छोड़ दी हैं
तुझपे ही सांस आके रुके
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके

आँखों की हैं ये ख्वाहिशे
की चेहरे से तेरी ना हटे
नींदों में मेरी बस तेरे
ख्वाबो ने ली हैं करवटे
की तेरी ओर मुझको लेके चले
ये दुनिया भर के सब रास्ते
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके
तेरे लिए दुनिया छोड़ दी हैं
तुझपे ही सांस आके रुके
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें