बुधवार, 20 जुलाई 2016

ए फूलों की रानी बहारों की मलिका Aye Phoolon Ki Rani Bahaaron Ki Malika .. Superhit Song .. Aarzoo

ए फूलों की रानी बहारों की मलिका,
 Aye Phoolon Ki Rani Bahaaron Ki Malika,
रफी,
Md Rafi 
 Aarzoo

      SONG


ऐ फूलों की रानी बहारों की मलिका
तेरा मुस्कुराना गज़ब हो गया
न दिल होश में है न हम होश में हैं
नज़र का मिलाना गज़ब हो गया


तेरे होंठ क्या हैं गुलाबी कंवल हैं
वो नाज़ुक लबों से मुहब्बत की बातें
ये दो पत्तियां प्यार की इक गज़ल हैं
हमीं को सुनाना गज़ब हो गया


कभी खुल के मिलना कभी खुद झिझकना
फ़िज़ाओं में ठंडक घटा भर जवानी
कभी रास्तों पे बहकना मचलना
ये पलकों की चिलमन उठाकर गिराना
गिराकर उठाना गज़ब हो गया


तेरे गेसुओं की बड़ी मेहरबानी
तेरा लड़खड़ाना गज़ब हो गया
हर इक पेंच में सैकड़ों मैकदे हैं


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें