शनिवार, 22 जुलाई 2017

हुई शाम उनका ख़्याल आ गया/Movie: Mere Hamdam Mere Dost

हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
Artist: Mohammed Rafi
Movie: Mere Hamdam Mere Dost
        SONG
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
वही ज़िन्दगी का सवाल आ गया
वही ज़िन्दगी का सवाल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया

अभी तक तो होंठों पे था
तबस्सुम का एक सिलसिला
बहुत शादमां थे हम उनको भुला कर
अचानक ये क्या हो गया
के चेहरे पे रंग-ए-मलाल आ गया
के चेहरे पे रंग-ए-मलाल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया

हमें तो यही था ग़रूर
गमे यार है हमसे दूर
वही ग़म जिसे हमने किस किस जतन से
निकाला था इस दिल से दूर
वो चल कर क़यामत की चाल आ गया
वो चल कर क़यामत की चाल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया
वही ज़िन्दगी का सवाल आ गया
हुई शाम उनका ख़्याल आ गया

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें