अब कहाँ जाएँ हम ये बता ऐ ज़मीं लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
अब कहाँ जाएँ हम ये बता ऐ ज़मीं लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

14/10/19

अब कहाँ जाएँ हम ये बता ऐ ज़मीं

 अब कहाँ जाएँ हम ये बता ऐ ज़मीं 
 शंकर - जयकिशन
गायक मन्ना डे

अब कहाँ जाएँ हम
 ये बता ऐ ज़मीं 
इस जहाँ में तो कोई हमारा नहीं 
अपने साये से भी लोग डरने लगे
 अब किसीको किसी पर भरोसा नहीं
 अब कहाँ जाएँ हम
 हम घर-घर जाते हैं ये दिल दिखलाते हैं 
पर ये दुनियावाले हम को ठुकराते हैं
 रास्ते मिट गए
 मंज़िलें खो गईं 
अब किसी को किसी पर भरोसा नहीं
 अब कहाँ जाएँ हम 
नफ़रत है निगाहों में वहशत है निगाहों में
 ये कैसा ज़हर फैला दुनिया की हवाओं में 
प्यार की बस्तियाँ ख़ाक होने लगीं 
अब किसी को किसी पर भरोसा नहीं
 अब कहाँ जाएँ हम 
हर साँस है मुश्किल की हर जान है 
इक मोती बाज़ार में पर इनकी गिनती ही नहीं होती
 ज़िंदगी की यहाँ कोई कीमत नहीं
 अब किसी को किसी पर भरोसा नहीं 
ये बता ऐ ज़मीं

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार