इंसान का इंसान से हो भाईचारा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
इंसान का इंसान से हो भाईचारा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

22/7/18

इंसान का इंसान से हो भाईचारा

फ़िल्मः पैग़ाम / Paigham (1959)
गायक/गायिकाः मन्ना डे
संगीतकारः सी. रामचंद्र
गीतकारः प्रदीप
अदाकारः दिलीप कुमार, राज कुमार, मोतीलाल, वैजंतीमाला

               गाना 

इंसान का इंसान से हो भाईचारा
यही पैगाम हमारा
यही पैगाम हमारा
नये जगत में हुआ पुराना ऊँच-नीच का किस्सा
सबको मिले मेहनत के मुताबिक अपना-अपना हिस्सा
सबके लिए सुख का बराबर हो बँटवारा
यही पैगाम हमारा
यही पैगाम हमारा
हरेक महल से कहो की झोपड़ियों में दिये जलाये
छोटों और बड़ों में अब कोई फ़र्क नहीं रह जाये
इस धरती पर हो प्यार का घर-घर उजियारा
यही पैगाम हमारा
यही पैगाम हमारा