जीत गांगुली लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
जीत गांगुली लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

20/7/17

मैं दर्दों को पास बिठा कर ही सोऊं,सरबजीत (2016),सोनू निगम

फ़िल्म/एल्बम: सरबजीत (2016)
संगीतकार: जीत गांगुली
गीतकार: रश्मि विराग, जानी
गायक/गायिका: सोनू निगम


Image result for फ़िल्म/एल्बम: सरबजीत (2016)

मैं दर्दों को पास बिठा कर ही सोऊं
जो तुझे लगता बारिश है, वो मैं हूं जो रोऊं
मैं दर्दों को पास बिठा कर ही सोऊं
खुशियों से मिलना भूल गए
तुम इतना क्यूं हमसे दूर गए
कोई किरण इक दिन आएगी
तुम तक हमको ले के जायेगी
मैं राह पे आंख बिछाके ही सोऊं
जो तुझे लगता बारिश है, वो मैं हूं जो रोऊं
मैं दर्दों को पास बिठा कर ही सोऊं
पंख अगर होते, उड़ के चला मैं आता
रुकता न एक पल
क़ैद ये कैसी ख़ुदा, सांस भी रूठी है
सीने में आजकल
मैं दर्दों को पास बिठा कर ही सोऊं

--------
पठनीय चिकित्सा लेख-

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि