लग जा गले की फिर ये हंसी रात हो न हो लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
लग जा गले की फिर ये हंसी रात हो न हो लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

8/9/15

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो,शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो !!

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात
lag ja gale ki fir ye hansee raat 
गीतकार : राजा मेहदी अली खान,
 गायक : लता मंगेशकर,
संगीतकार : मदन मोहन,
 Lyricist : Raja Mehdi Ali Khan
 Singer : Lata Mangeshkar,
 Music Director : Madan Mohan,
Movie : Woh Kaun Thi
 1964


                     SONG 

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले से ...


हमको मिली हैं आज, ये घड़ियाँ नसीब से

जी भर के देख लीजिये हमको क़रीब से
फिर आपके नसीब में ये बात हो न हो
फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो
पास आइये कि हम नहीं आएंगे बार\-बार
बाहें गले में डाल के हम रो लें ज़ार\-ज़ार
आँखों से फिर ये प्यार कि बरसात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हस्सीं रात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हस्सीं रात हो न हो

-------------------------------------- चिकित्सा आलेख-

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि