हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते फ़िल्म- क़ुदरत लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते फ़िल्म- क़ुदरत लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

22/7/17

हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते

फ़िल्म- क़ुदरत ,
 गीत- मजरूह सुल्तानपुरी, 
संगीत- राहुलदेव वर्मन, 
गायक- किशोर कुमार 


             SONG

हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुमसे प्यार

सुना ग़म जुदाई का उठाते है लोग
जाने ज़िन्दगी कैसे बिताते है लोग
दिन भी यहाँ तो लगे बरस के समान
हमें इंतज़ार कितना ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुमसे प्यार

तुम्हें कोई और देखें तो जलता है दिल
बड़ी मुश्किलों से फिर सँभलता है दिल
क्या क्या जतन करते है तुम्हें क्या पता
ये दिल बेक़रार कितना ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुमसे प्यार





पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि