1956 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1956 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

3/11/18

रसिक बलमा, हाय दिल क्यों लगाया/चोरी चोरी /1956


Movie/Album: चोरी चोरी (1956)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: 
हसरत जयपुरी

रसिक बलमा, हाय दिल क्यों लगाया
तोसे दिल क्यों लगाया, जैसे रोग लगाया

जब याद आये तिहारी, सूरत वो प्यारी प्यारी
नेहा लगा के हारी, तङपूं मैं गम की मारी

रसिक बलमा
...

ढूंढे हैं पागल नैना, पाए ना इक पल चैना
डसती है उजली रैना, कासे कहूँ मैं बैना

रसिक बलमा
...


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा

4/8/16

उस पर साजन इस पार धारे//Us Paar Sajan Is Paar Dhare - Lata Mangeshkar, Chori Chori Song

उस पर साजन इस पार धारे
Us Paar Sajan Is Paar Dhare
Lata Mangeshkar,

 Us Paar Sajan Is Paar Dhare
chori Chori
Lata Mangeshkar,
1956,


           SONG

ओ टिम का टिमा टिम्भा तारे करें अचम्भा
ओ टिम का टिमा टिम्भा
उस पार साजन इस पार धारे
ले चल ओ माँझी किनारे किनारे
ले चल ओ माँझी किनारे – 2
ओ कोड़ीया कोड़ीया कवलानी कवलानी – 2
दूर यहाँ से गाँव पिया का
हाल न पूछे कोई जिया का – 2
गहरा सागर और मैं अकेली
सूझें न कोई सहारे सहारे
ले चल ओ माँझी …
ओ टिम का टिमा टिम्भा …
लहरें देखूँ दिल लहराए – 2
जल दरपन में पी मुस्काए – 2
प्यासी अँखियाँ दोनों ये सखियाँ
हरदम करे हैं इशारे इशारे
ले चल ओ माँझी …

ओ टिम का टिमा टिम्भा



किडनी निष्क्रियता की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि




--------
------------------

17/6/16

गुजरा हुआ जमाना आता नहीं दुबारा // Guzra Hua Zamana Aata Nahin Dobara - Shirin Farhad ( 1956) 1080p HD

गुजरा हुआ जमाना आता नहीं दुबारा, 
 Guzra Hua Zamana Aata Nahin Dobara,
लता
 Shirin Farhad, 
 1956

SONG

गुज़रा हुआ जमाना, आता नहीं दोबारा
हाफ़िज खुदा तुम्हारा
खुशियाँ थी चार दिन की, आँसू हैं उम्रभर के
तनहईयों में अक्सर रोयेंगे याद कर के
वो वक्त जो के हम ने, एक साथ हैं गुज़ारा
मेरी कसम हैं मुझ को, तुम बेवफ़ा ना कहना
मजबूर थी मोहब्बत सबकुछ पड़ा हैं सहना
टूटा हैं जिंदगी का, अब आखरी सहारा
मेरे लिए सहर भी, आई हैं रात बनकर
निकाला मेरा जनाज़ा, मेरी बरात बनकर
अच्छा हुआ जो तुम ने, देखा ना ये नज़ारा


पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

लीवर के रोगों के उपचार

धतूरा के औषधीय उपयोग

खून की कमी (रक्ताल्पता) की घरेलू चिकित्सा


13/5/16

मैं पिया तेरी तू माने या न माने //Main Piya Teri Tu Maane Ya Na Maane Lata BASANT BAHAR 1956 KK

मैं पिया तेरी तू माने या न माने ,
 Main Piya Teri Tu Maane Ya Na Maane,
 Lata, 
 BASANT BAHAR ,
1956,  

     SONG

मैं पिया तेरी तू माने या न माने
दुनिया जाने तू जाने या न जाने


मैं पिया तेरी तू माने या न माने
काहेको बजाए तू मीठी मीठी तानें


मुरली की लय ने दिल मेरा छीना
राग उठाए मैंने राग उठाए
तार जगाए दिलके तार जगाए

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार


8/5/16

गरीब जानके हम को ना तुम द्गा देना // GARIB JAANKE(1956)CHHOO MANTAR ORIGINAL (HQ)



गरीब जानके हम को ना तुम द्गा देना
GARIB JAANKE
rafi
1956
CHHOO MANTAR




    SONG

गरीब जान के हम को न तुम दग़ा देना
तुम्हीं ने ददर् दिया है तुम्हीं दवा देना
गरीब जान के ...


तड़प रहे हैं मुहब्बत में इक नज़र के लिये
लगी है चोट कलेजे पे उम्र भर के लिये
नज़र मिलाके
तुम्हीं ने ददर् दिया है .
नज़र मिलाके नज़रों से न तुम गिरा देना


तुम्हारी याद हम.एन हर घड़ी सतायेगी
तुम्हारी याद को मुशकिल है अब भुला देना
तुम्हारे बिन तो हमें मौत भी न आयेगी
तुम्हारी याद को
तुम्हीं ने ददर् दिया है ...


पिपली के गुण प्रयोग लाभ 

हस्त मेथुन जनित यौन दुर्बलता के उपचार 

वर्षा ऋतु के रोग और आयुर्वेदिक घरेलू उपचार 

बवासीर के रामबाण उपचार

29/3/16

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना Kahin Pe Nigahen Kahin Pe Nishana - Shamshad Begum, Waheeda Rahman, CID ...

गीतकार : मजरुह सुलतानपुरी,
 गायक : शमशाद बेगम,
संगीतकार : ओ. पी. नय्यर,
 Lyricist : Majrooh Sultanpuri,
Singer : Shamshad Begum,
Music Director : O. P. Nayyar,
 Movie : C.I.D 
1956

                    गाना 

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना जीने दो ज़ालिम बनाओ न दीवाना कहीं पे निगाहें... कोई न जाने इरादे हैं किधर के मार न देना तीर नज़र का किसी के जिगर पे नाज़ुक ये दिल है बचाना ओ बचाना कहीं पे निगाहें... तौबा जी तौबा निगाहों का मचलना देख-भाल के ऐ दिलवालों पहलू बदलना क़ाफ़िर अदा की अदा है मस्ताना कहीं पे निगाहें... ज़ख़्मी हैं तेरे जायें तो कहाँ जायें तेरे तीर के मारे हुये देते हैं सदायें कर दो जी घायल तुम्हारा है ज़माना कहीं पे निगाहें... आया शिकारी ओ पंछी तू सम्भल जा देख जाल है ज़ुल्फ़ों का तू चुपके से निकल जा उड़ जा ओ पंछी शिकारी है दीवाना कहीं पे निगाहें...

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

ले के पहला पहला प्यार Leke Pehla Pehla Pyar - Dev Anand, Shakila, Shamshad Begum, Mohd Rafi, C...



ले के पहला पहला प्यार
गीतकार : मजरुह सुलतानपुरी,
गायक : आशा - रफी - शमशाद बेगम,
संगीतकार : ओ. पी. नय्यर,
चित्रपट : सी. आय. डी. 
१९५६
Lyricist : Majrooh Sultanpuri,
Singer : Asha Bhosle - Mohammad Rafi - Shamshad Begum,
Music Director : O. P. Nayyar,


     गाना 

 लेके पहला-पहला प्यार
भर के आँखों में खुमार
जादू नगरी से आया है कोई जादूगर

उसकी दीवानी हाय कहूँ कैसे हो गई
जादूगर चला गया मैं तो यहाँ खो गई
नैना जैसे हुए चार
गया दिल का क़रार
जादू नगरी से...

तुमने तो देखा होगा उसको सितारों
आओ ज़रा मेरे संग मिल के पुकारो
दोनों हो के बेक़रार
ढूँढे तुझको मेरा प्यार
जादू नगरी से...

जब से लगाया तेरे प्यार का काजल
काली-काली बिरहा की रतियां हैं बेकल
आजा मन के श्रृंगार
करे बिन्दिया पुकार
जादू नगरी से...

मुखड़े पे डाले हुए ज़ुल्फ़ों की बदली
चली बलखाती कहाँ रुक जा ओ पगली
नैनों वाली तेरे द्वार
ले के सपने हज़ार
जादू नगरी से...



चाहे कोई चमके जी चाहे कोई बरसे
बचना है मुश्किल पिया जादूगर से
देगा ऐसा मन्तर मार
आखिर होगी तेरी हार
जादू नगरी से...

सुन-सुन बातें तेरी गोरी मुस्काई रे
आई-आई देखो-देखो आई हँसी आई रे
खेले होठों पे बहार
निकला गुस्से से भी प्यार
  

23/3/16

दुखी मन मेरे सुन मेरा कहना //DUKHI MAN MERE , SUN MERA KEHNA-FUNTOOSH (1956)-SAHIR - KISHORE KUMAR-S ...


दुखी मन मेरे सुन मेरा कहना 
फंटूश 
१९५६
 गायक: किशोर
 गीत: साहिर
 संगीत: सचिन देव बर्मन


                                गाना

दुखी मन मेरे सुन मेरा कहना जहां नहीं चैना वहां नहीं रहना
दुखी मन मेरे, सुन मेरा कहना
जहाँ नहीं चैना, वहां नहीं रहना

दर्द हमारा कोई न जाने, अपनी गरज के सब हैं दीवाने
किस के आगे रोना रोये, देस पराया लोग बेगाने

लाख यहाँ झोली फैला ले, कुछ नहीं देंगे इस जगवाले
पत्थर के दिल मोम ना होंगे, चाहे जितना नीर बहा ले

अपने लिए कब हैं ये मेले, हम हैं हर एक मेले में अकेले
क्या पायेगा उस में रह कर, जो दुनियाँ जीवन से खेले

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा



8/9/15

ये रात भीगी भीगी// Yeh Raat Bheegi Bheegi - Raj Kapoor, Nargis, Manna Dey, Lata, Chori Chor...

गीतकार : शैलेन्द्र,
गायक : लता - मन्ना डे,
संगीतकार : शंकर जयकिशन,
Lyricist : Shailendra, Singer : Lata Mangeshkar - Manna Dey,
Music Director : Shankar Jaikishan,
Movie : Chori Chori 

(1956)    
          
गाना 


ये रात भीगी-भीगी, ये मस्त फिजायें
उठा धीरे-धीरे, वो चाँद प्यारा प्यारा
क्यों आग सी लगा के, गुमसुम हैं चांदनी
सोने भी नहीं देता, मौसम का ये इशारा

इठलाती हवा, नीलम सा गगन
कलियों पे ये बेहोशी की नमी
ऐसे में भी क्यों बेचैन हैं दिल
जीवन में ना जाने क्या हैं कमी ये रात भीगी-भीगी...

जो दिन के उजाले में ना मिला
दिल ढूंढें ऐसे सपने को
इस रात की जगमग में डूबी
मैं ढूंढ रही हूँ अपने को
ये रात भीगी-भीगी...

ऐसे में कहीं क्या कोई नहीं
भूले से जो हम को याद करे
एक हलकी सी मुसकान से जो
सपनों का जहां आबाद करे


पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

लीवर के रोगों के उपचार

धतूरा के औषधीय उपयोग

खून की कमी (रक्ताल्पता) की घरेलू चिकित्सा




---