1964 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1964 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

5/9/18

तू मेरे सामने है, तेरी जुल्फे हैं खुली/suhagan

Movie :Suhagan (1964), Singer : Mohamad Rafi, Lyricst : Hasrat Jaipuri, Music Director: Madan Mohan

तू मेरे सामने है, तेरी जुल्फे हैं खुली
तेरा आंचल है ढला, मैं भला होश में कैसे रहूँ

तेरी आँखें तो छलकते हुए पैमाने हैं
और तेरे होठ लरजते हुए मयखाने हैं
मेरे अरमान इसी बात पे दीवाने हैं

तू जो हसती है तो बिजली सी चमक जाती है
तेरे सांसों सी गुलाबों की महक आती है
तू जो चलती है तो कुदरत भी महक जाती है


पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि 

7/3/16

ओ मेरे सनम ओ मेरे सनम // Sangam - O Mere Sanam O Mere Sanam - Mukesh - Lata Mangeshkar

ओ मेरे सनम  ओ मेरे सनम
गीतकार : शैलेन्द्र,
गायक : लता - मुकेश,
संगीतकार : शंकर जयकिशन,
चित्रपट : संगम (१९६४) /
 Lyricist : Shailendra,
Singer : Lata Mangeshkar - Mukesh,
Music Director : Shankar Jaikishan,
Movie : Sangam (1964)

        SONG 

ओ मेरे सनम ओ मेरे सनम
दो जिस्म मगर एक जान हैं हम
एक दिल के दो अरमान हैं हम
ओ मेरे सनम...

तन सौंप दिया, मन सौंप दिया
कुछ और तो मेरे पास नहीं
जो तुम से है मेरे हमदम
भगवान से भी वो आस नहीं
जिस दिन से हुए एक दूजे के
इस दुनिया से अनजान है हम
एक दिल के दो अरमान हैं हम
ओ मेरे सनम...

सुनते हैं प्यार की दुनिया में
दो दिल मुश्किल से समाते हैं
क्या गैर वहाँ अपनों तक के
साये भी न आने पाते हैं
हमने आखिर क्या देख लिया
क्या बात है क्यों हैरान है हम
एक दिल के दो अरमान हैं हम
ओ मेरे सनम...

मेरे अपने, अपना ये मिलन
संगम है ये गंगा जमुना का
जो सच है सामने आया है
जो बीत गया एक सपना था
ये धरती है इन्सानों की
कुछ और नहीं इन्सान हैं हम
एक दिल के दो अरमान हैं हम
ओ मेरे सनम...


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा




23/10/15

जिन रातों की भोर नहीं// jin raaton ki bhor nahin hai. दूर गगन की छांव मे

जिन रातों की भोर नहीं,
jin raaton ki bhor nahin hai.
दूर गगन की छांव मे
1964
kishore kumar 


 SONG 


जिन रातों की भोर नहीं है
आज ऐसी ही रात आई
जो जिस ग़म में डूब गया है सागर की है गहराई
रात के तारों तुम ही बताओ मेरी वो मंज़िल है कहाँ
पागल बनकर जिसके लिये मैं खो बैठा हूँ दोनो जहाँ
जिन रातों ...
राह किसी की हुई ना रोशन जलना मेरा बेकार गया
लूट गई तक़दीर मुझे मैं जीत के बाज़ी हार गया
जिन रातों की भोर नहीं है ..
.

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि 


12/10/15

ये नयन डरे डरे // Yeh Nayan Dare Dare-हेमंत कुमार

ये नयन डरे डरे
  Yeh Nayan Dare Dare
गीतकार : कैफी आज़मी,
 गायक : हेमंत कुमार,
संगीतकार : हेमंत कुमार,
 Lyricist : Kaifi Azmi,
 Singer : Hemant kumar,
Music Director : Hemant Kumar,
 Movie : Kohra
 1964


                 SONG

Ye nayan dare dare, ye jaam bhare bhare
Zara peene do
Kal ki kisko khabar, ik raat hoke nidar
Mujhe jeene do
Ye nayan dare dare...


Raat haseen ye chand haseen
Tu sabse haseen mere dilbar
Aur tujhse haseen, aur tujhse haseen tera pyaar
Tu jaane na
Ye nayan dare dare...


Pyaar mein hai jeevan ki khushi
Deti hai khushi kai gam bhi
Maein maan bhi loon, maein maan bhi loon kabhi haar
Tu maane na
Ye nayan dare dare...


*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि 




------

8/9/15

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो,शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो !!

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात
lag ja gale ki fir ye hansee raat 
गीतकार : राजा मेहदी अली खान,
 गायक : लता मंगेशकर,
संगीतकार : मदन मोहन,
 Lyricist : Raja Mehdi Ali Khan
 Singer : Lata Mangeshkar,
 Music Director : Madan Mohan,
Movie : Woh Kaun Thi
 1964


                     SONG 

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले से ...


हमको मिली हैं आज, ये घड़ियाँ नसीब से

जी भर के देख लीजिये हमको क़रीब से
फिर आपके नसीब में ये बात हो न हो
फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो
पास आइये कि हम नहीं आएंगे बार\-बार
बाहें गले में डाल के हम रो लें ज़ार\-ज़ार
आँखों से फिर ये प्यार कि बरसात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हस्सीं रात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाक़ात हो न हो
लग जा गले कि फिर ये हस्सीं रात हो न हो

-------------------------------------- चिकित्सा आलेख-

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone)  की अचूक औषधि