1968 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1968 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

8/5/16

ग़ैरों पे करम अपनों पे सितम// LATA MANGESHKAR, Gairon pe karam apno ग़ैरों पे करम अपनों पे सितमpe sitam,film-Aankhen 1968.

ग़ैरों पे करम अपनों पे सितम
gairon pe karam apano pe sitam 
lata mangeshkar
film - aankhen 

          SONG

ग़ैरों पे करम अपनों पे सितम, ऐ जान-ए-वफ़ा ये ज़ुल्म न कर
रहने दे अभी थोड़ा सा धरम, ऐ जान-ए-वफ़ा ये ज़ुल्म न कर
ग़ैरों के थिरकते शानों पर, ये हाथ गँवारा कैसे करें
ये ज़ुल्म न कर
ग़ैरों पे करम ...


ये बात गंवारा कैसे करें
हर बात गंवारा है लेकिन, ये बात गंवारा कैसे करें
मर जाएंगे हम, मिट जाएंगे हम
हम भी थे तेरे मंज़ूर-ए-नज़र, दिल चाहा तो अब इक़रार न कर
ऐ जान-ए-वफ़ा ये ज़ुल्म न कर, ये ज़ुल्म न करग़ैरों पे करम ...
सौ तीर चला सीने पे मगर, बेगानों से मिलकर वार न कर
हम चाहनेवाले हैं तेरे, यूँ हमको जलाना ठीक नहीं
बेगानों से मिलकर वार न करबेमौत कहीं मर जाएं न हम
ऐ जान-ए-वफ़ा ये ज़ुल्म न कर, ये ज़ुल्म न करग़ैरों पे करम ...
ग़ैरों पे करम ...मह्फ़िल में तमाशा बन जाएं, इस दर्जा सताना ठीक नहीं इस दर्जा सताना ठीक नहीं
ऐ जान-ए-वफ़ा ये ज़ुल्म न कर, ये ज़ुल्म न कर



पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा  का  अचूक  इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका  के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि


 
-------------

13/4/16

रुख से ज़रा नकाब Rukh Se Zara Naqaab

रुख से ज़रा नकाब ,
 Rukh Se Zara Naqaab,
मेरे हजूर,
रफी,
mere hazoor,
Mohd Rafi,
 1968


                   SONG 


Khubsurat gunaah karne do, rukh se parde hataao jaane haya
Aaj dil ko tabaah karne do
Jalwa phir ek baar dikha do mere huzoor
Rukh se jara naqaab utha do, mere huzoor
Takraaya mere dil se muhabbat ka ik chaman
Woh marmari se haath, woh mehka huwa badan
Mere bhi dil ka phool khila do mere huzoor
Husn-o-jamaal aapka sheeshe mein dekhkar
Rukh se jara naqaab utha do, mere huzoor
Jalwa phir ek baar dikha do mere huzoor
Madhosh ho chuka hu main jalwon ki raah par
Tum hamsafar mile ho mujhe iss hayaat mein
Gar ho sake toh hosh mein laa do mere huzoor
Rukh se jara naqaab utha do, mere huzoor
Jalwa phir ek baar dikha do mere huzoor
Mil jaay jaise chaand koyi suni raat mein
Jalwa phir ek baar dikha do mere huzoor
Jaaoge tum kahaan yeh baata do mere huzoor
Rukh se jara naqaab utha do, mere huzoor



पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि



ओह रे ताल मिले नदी के जल मेंOh re taal mile nadi ke jal me

ओह रे ताल मिले नदी के जल में,
Oh re taal mile nadi ke jal me,
1968,
mukesh
film- Anokhi raat


         

      SONG 

तेरी मोहब्बत पे शक नही है, तेरी वफाओ को मानता हू
मगर तुजे किस की आरजू है, मै ये हकीकत भी जानता हू

ना आदमी का कोइ भरोसा, ना दोस्ती का कोइ ठिकाना
वफ़ा का बदला है बेवफाई, अजब ज़माना है ये ज़माना

ना हुस्न मे अब वो दिलकशी है, ना इश्क मे अब वो जिन्दगी है
जिधर निगाहे उठा के देखो, सितम है धोखा है बेरुखी है
बदल गए जिन्दगी के नगमे, बिखर गया प्यार का तराना

दवा का बदले मे जहर दे दो, उतार दो मेरे दिल मे खंजर
लहू से सीचा था जिस चमन को, उगे है शोले उस ही के अन्दर
मेरे ही घर के चिराग ने खुद, जला दिया मेरा आशियाना


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि





मैं तो भूल चली बाबुल //Main To Bhool Chali Babul Ka Des (HD) - Saraswatichandra - Nutan - Manis...

मैं तो भूल चली बाबुल,
Main To Bhool Chali Babul Ka Des,
फिल्म- सरस्वती चन्द्र
 1968,

       SONG 
मैं तो भूल चली बाबुल का देस
पिया का घर प्यारा लगे
कोई मैके को दे दो संदेस
पिया का घर प्यारा लगे

ननदी में देखी है बहना की सूरत
सासू जी मेरी है ममता की मूरत
पिता जैसा, ससुर जी का भेस
पिया का घर...

चँदा भी प्यारा है सूरज भी प्यारा
पर सबसे प्यारा है सजना हमारा
आँखें समझे जिया का संदेस
पिया का घर

बैठा रहे सैयां नैनों को जोड़े
इक पल वो मुझको अकेला ना छोड़े
नहीं जिया को कोई क्लेश
पिया का घर...


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि



12/4/16

मेरा प्यार भी तू है //Mera Pyar Bhi Tu Hai - Mukesh & Suman Kalyanpur - Saathi (1968) - HD


मेरा प्यार भी तू है,
Mera Pyar Bhi Tu Hai,
साथी ,
1968,
सुमन कल्याणपुर 


    SONG

मेरा प्यार भी तू है, ये बहार भी तू है
तू ही नज़रों में जान-ए-तमन्ना, तू ही नज़ारों में

तू ही तो मेरा नील गगन है, प्यार से रोशन आँख उठाये
और घटा के रूप में तू है, काँधे पे मेरे सर को झुकाये
मुझपे लटें बिखराये
मेरा प्यार भी तू है...

मंज़िल मेरे दिल की वहीँ है, साया जहाँ दिलदार है तेरा
परबत परबत तेरी बाहें, गुलशन गुलशन प्यार है तेरा
महके है आँचल मेरा
मेरा प्यार भी तू है...

जागी नज़र का ख्वाब है जैसे, देख मिलन का दिन ये सुहाना
आँख तो तेरे जलवों में गुम है, देखूँ तुझे या देखूँ जमाना
बेखुद है दीवाना
मेरा प्यार भी तू है...


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि


31/3/16

पर्दे मे रहने दो// Parde Mein Rehne Do - Asha Parekh, Dharmendra - Shikar



पर्दे में रहने दो, पर्दा न उठाओ
parde me.n rahane do, pardaa na uThaao
Film: Shikaar
शंकर - जयकिशन-
आशा भोसले
1968
         

SONG


पर्दे में रहने दो,पर्दा न उठाओ
पर्दा जो उठ गया तो भेद खुल जायेगा
अल्लाह मेरी तौबा, अल्लाह मेरी तौबा ...
मेरे पर्दे में लाख जलवे हैं
कैसे मुझसे नज़र मिलाओगे
जब ज़रा भी नक़ाब उठाऊँगी
याद रखना की, जल ही जाओगे
हुस्न जब बेनक़ाब होता है 
पर्दे में रहने दो,पर्दा न उठाओ>
वो समाँ लाजवाब होता है 
हाय जिसने मुझे बनाया है, 
खुद को खुद की खबर नहीं रहती 
होश वाला भी, होश खोता है 
पर्दे में--
पर्दे में रहने दो,पर्दा न उठाओ ... 
इन फ़रिश्तों ने, सर झुकाया है
किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि  प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि  सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि  पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि

6/9/15

आज पुरानी राहों से कोई मुझे //Aaj Purani Rahon Se Koi Mujhe Aawaz Na De - Mohammad Rafi.

आज पुरानी राहों  से कोई मुझे
 Aaj Purani Rahon Se Koi Mujhe Aawaz Na De
  गायक : मोहम्मद रफी,
 संगीतकार : नौशाद
/ Lyricist : Shakeel Badayuni,
Singer : Mohammad Rafi,
Music Director : Naushad,
 Movie : Aadmi 
1968

                    SONG 


Aaj purani rahon se
Koi mujhe aawaz na de
Dard mein doobey geet na de
Gham ka sisakta saz na de
Beete dinon ki yaad thi jinmein
Maein woh tarane bhool chuka
Aaj nai manzil hai meri,
Kal ke thikaane bhool chuka
Na woh dil na sanam,
Na woh deen dharam
Ab door hoon sare gunahon se
Aaj purani rahon se
Koi mujhe aawaz na de
Toot chuke sab pyar ke bandhan
Aaj koi zanjeer nahin,
Sheesha-e-dil mein armaanon ki,
Aaj koi tasveer nahin
Ab shaad hoon maein aazad hoon maein,
Kuch kaam nahin hai aahon se,
Aaj purani rahon se
Koi mujhe aawaz na de
Jeevan badalaa, duniyaan badalee,
Man ko anokhaa gyaan milaa
Aaj mujhe apane hee dil me, ek nayaa insaan mila
Pahuchaa hoo wahaa, naheen door jahaa
Bhagwaan bhee meri nigaahon se
Aaj purani rahon se
Koi mujhe aawaz n
a de


*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि