1974 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1974 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

22/3/16

जिंदगी के सफर मे गुजर जाते// Zindagi Ke Safar Mein Guzar Jaate | Kishore Kumar | Aap Ki Kasam 1974 Songs


जिंदगी के सफर मे गुजर जाते
गीतकार : आनंद बक्षी,
गायक : किशोर कुमार,
 संगीतकार : राहुलदेव बर्मन,
Lyricist : Anand Bakshi,
Singer : Kishore Kumar,
 Music Director : Rahuldev Burman,
 Movie : Aap Ki Kasam
 1974

                गाना 
ज़िन्दगी के सफ़र में गुज़र जाते हैं जो मकाम
वो फिर नहीं आते, वो फिर नहीं आते

फूल खिलते हैं, लोग मिलते हैं
फूल खिलते हैं, लोग मिलते हैं मगर
पतझड़ में जो फूल मुरझा जाते हैं
वो बहारों के आने से खिलते नहीं
कुछ लोग एक रोज़ जो बिछड़ जाते हैं
वो हजारों के आने से मिलते नहीं
उम्र भर चाहे कोई पुकारा करे उनका नाम
वो फिर नहीं आते...

आँख धोखा है, क्या भरोसा है
आँख धोखा है, क्या भरोसा है सुनो
दोस्तों शक दोस्ती का दुश्मन है
अपने दिल में इसे घर बनाने न दो
कल तड़पना पड़े याद में जिनकी
रोक लो रूठ कर उनको जाने न दो
बाद में प्यार के चाहे भेजो हजारों सलाम
वो फिर नहीं आते...

सुबहो आती है, रात जाती है
सुबहो आती है, रात जाती है यूँ ही
वक़्त चलता ही रहता है रुकता नहीं



एक पल में ये आगे निकल जाता है
आदमी ठीक से देख पाता नहीं
और परदे पे मंज़र बदल जाता है
एक बार चले जाते हैं जो दिन-रात, सुबहो-शाम
वो फिर नहीं आते...
किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा




घूघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं// Ghungroo Ki Tarah Bajta Hi Raha - Kishore Kumar, Chor Machaye Shor Song

घूघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं
 Ghungroo Ki Tarah Bajta Hi Raha
गीतकार : रविन्द्र जैन,
 गायक : किशोर कुमार,
संगीतकार : रविन्द्र जैन,
Lyricist : Ravindra Jain,
Singer : Kishore Kumar,
Music Director : Ravindra Jain,
 Movie : Chor Machaye Shor
 1974
               गाना 
घुँघरू की तरह, बजता ही रहा हूँ मैं
कभी इस पग में, कभी उस पग में
बंधता ही रहा हूँ मैं

सौ बार मूझे फिर जोड़ा गया
कभी टूट गया, कभी तोड़ा गया
बनता ही रहा हूँ मैं
यूँ ही लूट लूट के और मिट मिट केमैं करता रहा औरो की कही
मेरी बात मेरे मन ही में रही
कभी मंदिर में, कभी महफ़िल में
सजता ही रहा हूँ मैं

घुन्गरू की जगह तो है पैरो में
अपनों में रहें या गैरों में
सहता ही रहा हूँ मैं
फिर कैसा गिला, जग से जो मिला


पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि


मेरा जीवन कोरा कागज़ //Mera Jeevan Kora kagaz korahi reh gaya

मेरा जीवन कोरा कागज़
गीतकार : एम. जी. हशमत,
 गायक : किशोर कुमार,
संगीतकार : कल्याणजी आनंदजी,
चित्रपट : कोरा कागज़ (१९७४) /
 Lyricist : M.G.Hashmat,
Singer : Kishore Kumar,
Music Director : Kalyanji Anandji,
Movie : Kora Kagaz 
1974

                    गाना 
मेरा जीवन कोरा कागज़ कोरा ही रह गया
जो लिखा था
जो लिखा था आँसुओं के संग बह गया
मेरा जीवन ...

इक हवा का झोंका आया
टूटा डाली से फूल 
ना पवन की ना चमन की
किसकी है ये भूल 
खो गई खुशबू हवा में कुछ न रह गया
मेरा जीवन ...उड़ते पंछी का ठिकाना
मेरा न कोई जहाँ 
ना डगर है ना खबर है
जाना है मुझको कहाँ 
बन के सपना हमसफ़र का साथ रह गयामेरा जीवन ...
दुख के अन्दर सुख की ज्योती
दुख ही सुख का ज्ञान 
दर्द सह के जन्म लेता
हर कोई इनसान 
वो सुखी है जो खुशी से दर्द सह गया
मेरा जीवन ...
किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि
 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 


सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि
 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा